जयललिता ने दिए नि:शुल्क बिजली, ॠण माफी के आदेशBookmark and Share

PUBLISHED : 24-May-2016

   

 चेन्नई। तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने शपथ ग्रहण समारोह के तुरंत बाद अपने चुनावी वादों को पूरा करने के लिए सोमवार को कई आदेश जारी किए, जिसमें किसानों के कृषि ॠण को माफ करना और उपभोक्ताओं को नि:शुल्क बिजली मुहैया कराना शामिल है।
 उन्होंने महिला लाभार्थियों को स्वर्ण आवंटन बढ़ाने और तमिलनाडु राज्य विपणन परिषद के शराब की दुकानों पर कामकाज का समय कम करने के अलावा शराब की करीब 500 दुकानों को बंद करने के भी आदेश दिए।
 
शपथ ग्रहण के तुरंत बाद जयललिता फोर्ट सेंट जॉर्ज पहुंचीं जहां सचिवालय स्थित है और अपनी पार्टी के घोषणा पत्र में शामिल पांच चुनावी वादों को पूरा करने के लिए पांच फाइलों पर दस्तखत किया। सबसे पहले उन्होंने किसानों के फसल ॠण को 31 मार्च 2016 तक माफ करने की फाइल पर दस्तखत किया जो को-ऑपरेटिव बैंक को दिया जाना था।
 
ॠण माफी में फसल ॠण, छोटे और मध्यम समय के छोटे और सूक्ष्म किसानों के ॠण को माफ किया गया जो सहकारी बैंकों को भुगतान किया जाना था और इस पहल से उनकी सरकार पर 5780 करोड़ रुपए का वित्तीय बोझ पड़ेगा।
 
जयललिता का दूसरा आदेश घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को आज से सौ इकाई नि:शुल्क बिजली देना शामिल है। इससे राज्य सरकार को तमिलनाडु जेनरेशन एंड डिस्ट्रीब्यूशन कॉर्पोरेशन को 1607 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भुगतान करना पड़ेगा। एक अन्य आदेश है जिसमें महिला लाभार्थियों को थल्लीकू थंगम योजना (मंगलसूत्र के लिए स्वर्ण) के तहत स्वर्ण का आवंटन चार ग्राम से बढ़ाकर आठ ग्राम किया गया है।
 
अब लाभार्थियों को 25 हजार से 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता के अलावा आठ ग्राम सोना भी मिलेगा। मुख्यमंत्री ने हैंडलूम बुनकरों को 200 यूनिट तक नि:शुल्क बिजली और पॉवरलूम को 750 यूनिट तक नि:शुल्क बिजली देने के आदेश दिए।
 
उन्होंने 500 सरकारी शराब की दुकानों को बंद करने और बार के समय को कम करने के भी आदेश दिए। कल से शराब की दुकानें और बार दोपहर से रात दस बजे तक चलेंगे जो फिलहाल सुबह दस बजे से रात दस बजे तक खुले रहते थे।
 
ये सभी पहल उनके चुनावी वादे के मुताबिक है और उन्होंने कहा था कि अपने काम के माध्यम से वे लोगों के प्रति सम्मान को दर्शाएंगी।

बॉलीवुड

Prev Next