उरी में सेना पर सबसे बड़ा आतंकी हमला, शहीद जवानों की संख्या 17 हुईBookmark and Share

PUBLISHED : 19-Sep-2016



जम्मू कश्मीर में रविवार को हुए आतंकी हमले में ताजा जानकारी के अनुसार सेना के तीन और जवान शहीद हो गए हैं। अब तक इस आतंकी हमले में कुल 17 जवान शहीद हो चुके हैं। लगभग 18 जवान गंभीर रुप से घायल हैं। कश्मीर में 26 सालों में यह सबसे बड़ा आतंकी हमला है।

वहीं जवाबी कार्रवाई में सेना ने चार आतंकियों को मार गिराया। ये सभी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हुए पाकिस्तानी नागरिक थे। रविवार सुबह इंडियन आर्मी के नार्थन कमांड ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर उरी में सेना मुख्यालय पर हुए आतंकी हमले की जानकारी दी थी।

उन्होंने बताया कि आतंकियों के समूह ने उरी यूनिट के एडमिनिस्ट्रेटिव बेस पर हमला किया है। बताया गया है कि जिस वक्त ये हमला हुआ हमारे जवान टेंट और अस्थायी शिविरों में रह रहे थे। आतंकी आत्मघाती हमलावर बनकर आए थे और उन्होंने इन्हीं टेंटों को निशाना बनाया। आतंकियों द्वारा किए गए धमाकों से तंबू में लगी आग मौतों का मुख्य कारण बनी।

गौरतलब है कि हमला उस समय हुआ जब डोगरा रेजीमेंट के जवान ड्यूटी की अदला-बदली की प्रक्रिया में थे। ड्यूटी खत्म करके लौटे जवान तंबुओं में सो रहे थे। कमांड की ओर से जानकारी के मुताबिक, उरी यूनिट का एडमिनिस्ट्रेटिव बेस काफी बड़ा है और यहां काफी बड़ी संख्या में सैन्य बल रहते हैं।

ड्यूटी आवर्स के बाद जो जवान आराम करते हैं वे इन्हीं अस्थायी टेंटों में रुकते हैं। रात की ड्यूटी से फ्री हुए जवान ही उस समय इन टेंटों में आराम कर रहे थे जब आतंकियों ने हमला बोला। जवान जबतक सजग हो पाते आतंकियों ने कैंप में ग्रनेड फेंककर धमाका कर दिया और टेंटों में आग लगा दिया।

लाइफ स्टाइल

Survey : घरों के परदों और सोफे से भी होती है सांस ...

PUBLISHED : Aug 17 , 3:09 PM

आमतौर पर माना जाता है कि सांस की बीमारी सिगरेट, बीड़ी पीने से होती है। पर, पिछले डेढ़ साल में हुए शोध के मुताबिक बिना धूम्...

View all

बॉलीवुड

Prev Next