कांग्रेस अपने हारे हुए प्रत्याशियों पर भी लग सकतेा हैं दांव...Bookmark and Share

PUBLISHED : 26-Apr-2013

 भोपाल। कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों प्रदेश के दौरे पर है। बुधवार को मोहनखेड़ा(धार)में पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने के बाद गुरुवार को वे भोपाल पहुंचे। यहां स्टेट हैंगर पर कड़ी सुरक्षा के बीच राहुल गांधी से पार्टी के कुछ प्रमुख कार्यकर्ताओं ने मुलाकात की और उनका स्वागत किया।

 
इसके बाद राहुल गांधी सीधे मानव भवन पहुंचे। यहां उन्होंने 15 लोकसभा क्षेत्रों के सांसद, विधायक, हारे हुए प्रत्याशी और संगठन के पदाधिकारियों से मुलाकात की।
 
इस मौके पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि ऐसा पार्टी इतिहास में पहली बार हो रहा है कि पार्टी के उपाध्यक्ष ब्लाक प्रतिनिधियों से सीधे संवाद कर रहे हैं। राहुल की यह पहल सराहनीय है।
 
बढ़ा है वोट बैंक: टिकट देने को लेकर पूछे गए सवाल पर दिग्विजय ने कहा कि इस मामले में अभी उनसे कुछ भी नहीं पूछा गया है। प्रदेश में कांग्रेस की स्थित को स्पष्ट करते हुए दिग्विजय ने बताया कि राहुल ने जब 2004 में लोकसभा चुनाव लड़ा था, तब से लेकर अब तक कांग्रेस का वोट बैंक बढ़ा है।
 
बीजेपी की फिल्म पिट गई: 2004 के बाद 2009 में राहुल ने फिर से लोकसभा चुनाव लड़ा। इस चुनाव के बाद तो बीजेपी की सारी फिल्म पिट गई। कांग्रेस न सिर्फ वोट बैंक बढ़ा बल्कि हर राज्यों में सीटें भी बढ़ाई गई है।
 
ताकि उचित भागीदारी दें सकेः  राहुल गांधी ने सागर और दमोह के प्रतिनिधियों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि बीना के पदाधिकारियों को और मजबूत बनाना होगा। ताकि आने वाले समय में वे अपनी उचित भागीदारी दें सके। 
 
 तीन बार चुनाव हारने वालों को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी
 

बॉलीवुड

Prev Next