40$ तक फिसल सकता हैं क्रूड, शेयर बाजार में भी बड़ी गिरावट का खतरा: आशु दत्तBookmark and Share

PUBLISHED : 20-Dec-2014

 
22 Stock Market Trading Secrets, Stop Losing Start Winning और Master the Stock Market जैसी दर्जन भर से ज्यादा लोकप्रिय किताबों के लेखक आशु दत्त का मानना है कि अगर कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का सिलसिला जारी रहा तो आने वाले दिनों में भारतीय शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिल सकती है।
 
साथ ही मनीभास्कर से एक्सक्लूसिव बातचीत में उन्होने यह भी बताया कि अगले कुछ दिनों में डॉलर के मुकाबले रुपए की चमक और फीकी पड़ सकती है जबकि कच्चे तेल की कीमतों में हल्की रिकवरी के बाद एक बड़ी गिरावट का खतरा बरकरार है। आशु दत्त के साथ हुई बातचीत के मुख्य अंश इस प्रकार हैं। 
 
आने वाले दिनों में भारतीय शेयर बाजार की दिशा कैसी रहेगी?
 
जून से अब तक कच्चे तेल की कीमतें 50 फीसदी तक गिर चुकी हैं। ओपेक देशों की ओर से उत्पादन में कटौती न करने की वजह से आने वाले दिनों में कीमतों में गिरावट के आसार हैं। इस गिरावट से मिडिल ईस्ट देशों के साथ रुस जैसी इकोनॉमी को भी खतरा है। गहराते आर्थिक संकट को देखते हुए आने वाले दिनों में ग्लोबल इंवेस्टर इमर्जिंग इक्विटी मार्केट से पैसा निकाल सकते हैं जिसका गहरा असर भारतीय शेयर बाजार पर देखने को मिलेगा। इस गिरावट में निफ्टी 7000 तक के स्तर देख सकता है। 
 
गिरावट की एक और कारण यह है कि क्रूड के कॉन्ट्रैक्ट में मार्जिन शॉर्ट होने की वजह से बड़े फंड मैनेजर्स इक्विटी में बिकवाली कर सकते हैं। जिसकी वजह से शेयर बाजार में गिरावट का खतरा है। दोनों ही कारणों की मूल वजह क्रूड की कीमतों का फिसलना है। ऐसे में शायद यह कहना तर्कसंगत होगा कि आने वाले दिनों में भारतीय शेयर बाजार की चाल कैसी रहेगी यह कच्चे तेल की कीमतों पर ही निर्भर करेगा। 

बॉलीवुड

Prev Next