भारत दूसरे टी20 मैच को जीतकर आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन बनाBookmark and Share

PUBLISHED : 21-Jun-2016

   

 हरारे। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज बरिन्दर शरण (10 रन पर चार विकेट) के पदार्पण मैच में रिकॉर्डतोड़ प्रदर्शन की बदौलत भारत ने मेजबान जिम्बाब्वे को दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में सोमवार को 10 विकेट से रौंदकर तीन मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली।

भारत ने शरण और यॉर्कर मैन जसप्रीत बुमराह (11 रन पर तीन विकेट) की कहर बरपाती गेंदों से जिम्बाब्वे को नौ विकेट पर 99 रन के मामूली स्कोर पर रोक दिया और दोनों ओपनरों लोकेश राहुल (नाबाद 47) तथा मनदीप सिंह (नाबाद 52) की लाजवाब ओपनिंग साझेदारी से 13.1 ओवर में बिना कोई विकेट खोए 103 रन बनाकर जिम्बाब्वे को जमीन पर ला दिया जो पहले मैच की जीत के बाद सातवें आसमान पर उड़ रहे थे। भारत ने इस तरह टी-20 में पहली बार 10 विकेट से जीत हासिल की।
 
अपना पदार्पण मैच खेल रहे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज शरण ने 10 रन पर चार विकेट लेकर किसी गेंदबाज का टी-20 पदार्पण मैच में दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन और भारत की तरफ से टी-20 का दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।
ऑफ स्पिनर रविचन्द्रन अश्विन के नाम टी-20 में आठ रन पर चार विकेट लेने का भारतीय रिकॉर्ड है। शरण इस दमदार प्रदर्शन के बलबूते 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार भी ले उड़े। उन्होंने इस तरह टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में यादगार पदार्पण किया।
               
जिम्बाब्वे को 99 रन पर थामने के बाद दोनों भारतीय ओपनरों ने शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया और मैच को 14वें ओवर में निपटा दिया। राहुल ने टी-20 की अपनी सर्वश्रेष्ठ पारी खेलते हुए 40 गेंदों में दो चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 47 रन बनाए जबकि मनदीप ने टी-20 का अपना पहला अर्धशतक जड़ते हुए 40 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के के सहारे नाबाद 52 रन बनाए।
        
मनदीप ने विजयी चौका मारकर अपना अर्धशतक पूरा किया और इसके साथ ही भारत ने पहली बार 10 विकेट की जीत हासिल करते हुए सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली। इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे जिम्बाब्वे को शरण ने शुरुआती स्पैल में ही झकझोर दिया। उन्होंने पारी के पांचवें ओवर में जिम्बाब्वे के तीन बल्लेबाजों को आउट किया और इसके साथ ही वे एक ओवर में तीन विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज बन गए। इससे पहले यह उपलब्धि अशोक डिंडा को हासिल थी।   
      
शरण ने इस ओवर में हेमिल्टन मस्काद्जा (10), सिकन्दर रजा (1) और टीनोतेंदा मुतोमबोद्जी (0) को आउट किया। शरण ने जिम्बाब्वे के ओपनर चामू चिभाभा (10) को तीसरे ओवर में निपटाया था। शरण ने इस तरह शीर्ष पांच में से चार बल्लेबाजों को आउट किया।
          
भारतीय यॉर्कर मैन बन चुके बुमराह ने चार ओवर में 11 रन  देकर तीन विकेट चटके। उन्होंने 17वें ओवर में दो बल्लेबाजों के स्टंप्स उखाड़ दिए। तेज गेंदबाज धवल कुलकर्णी ने 32 रन पर एक विकेट और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने 19 रन पर एक विकेट लिया।
          
बुमराह ने जिम्बाब्वे की तरफ से सर्वाधिक 31 रन बनाने वाले पीटर मूर को 15वें ओवर में आउट किया और फिर 17वें ओवर में एल्टन चिगुम्बुरा (8) और नेविले मद्जिवा (1) को बोल्ड कर दिया। कुलकर्णी ने कप्तान ग्रीम क्रेमर (4) और चहल ने मैल्कम वालर (14) को निटपाया। डोनाल्ड तिरिपानो 11 रन पर नाबाद रहे।
          
मूर ने 32 गेंदों में दो चौके और एक छक्का लगाया। पहला टी-20 जीतने वाली जिम्बाब्वे की टीम शरण के एक ओवर के तीन झटकों से संभल नहीं पाई और 20 ओवर में 99 रन तक ही पहुंच सकी। (वार्ता)

बॉलीवुड

Prev Next