इस देश में मिला 10 करोड़ साल पुराना गड्ढा, उल्‍कापिंड के टकराने से बना Bookmark and Share

PUBLISHED : 04-Sep-2020



नई दिल्‍ली: पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में 10 करोड़ साल पुराना उल्कापिंड का गड्ढा (Meteorite Crater) मिला है. यह गड्ढा तब मिला जब एक खनन कंपनी सोना निकालने के लिए ड्रिलिंग कर रही थी.

इस क्रेटर का व्यास 5 किमी है. विशेषज्ञों को यह क्रेटर इलेक्‍ट्रोमैगनेटिक सर्वे का उपयोग करने से मिला है. क्रेटर कलगुरली-बोल्डर के उत्तर-पश्चिम में ओरा बांदा के गोल्डफील्ड्स खनन शहर के पास है.

अनुमान है कि यह क्रेटर किम्बरले के प्रसिद्ध वोल्फ क्रीक क्रेटर (Wolfe Creek Crater) से भी पांच गुना बड़ा हो सकता है. 5 किमी व्‍यास वाले इस क्रेटर को दुनिया का सबसे बड़ा मिटियोराइट क्रेटर माना जा रहा है.

ये भी पढ़ें: सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट करवाने वाला दूसरा देश बना भारत, अब तक इतने नमूनों की हुई जांच

जियोलॉजिस्‍ट और जियोफिजिसिस्‍ट डॉ. जैसन मेयर्स ने कहा है कि यह खोज महत्वपूर्ण और अप्रत्याशित है. उन्‍होंने कहा, 'यह खोज एक ऐसे क्षेत्र में हुई है जहां परिदृश्य बहुत सपाट है. आपको पता ही नहीं चलेगा कि ये वहां था क्‍योंकि यह क्रेटर इतने सालों से भरा हुआ था.' मेयर्स के अनुसार इस खोज से और भी खोजें करने में मदद मिल सकती है.

उन्‍होंने आगे कहा, 'शायद वहां से और भी कुछ बाहर निकले. हमने जितना सोचा है शायद उससे अधिक क्षुद्रग्रहों (Asteroids) की वहां टक्‍कर हुई हो, अगर हम अधिक से अधिक को पहचानना शुरू करते हैं, तो पूरा परिदृश्य ही बदलना शुरू हो जाता है.

साभार

लाइफ स्टाइल

Covid-19:कोरोना संक्रमित एक तिहाई से अधिक बच्चों म...

PUBLISHED : Dec 02 , 11:29 AM

एक नए अध्ययन के अनुसार कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए एक तिहाई से अधिक बच्चों में इस महामारी के कोई लक्षण नहीं दिखाई दि...

View all

बॉलीवुड

Prev Next