अधर्म पर धर्म की जीत का पर्व है दशहराBookmark and Share

PUBLISHED : 23-Oct-2015



 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि विजयादशमी अधर्म पर धर्म की जीत का पर्व है। हमें अपने अन्दर की दुष्प्रवृत्तियों को समाप्त कर अच्छाई को बढ़ाना होगा, तभी रावण दहन सार्थक होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह के साथ सीहोर जिले के बुदनी में दशहरा उत्सव में शामिल हुए। उन्होंने श्रीराम के प्रतिरूप का राज्याभिषेक भी किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जन-समुदाय को राम राज्य की स्थापना का संकल्प दिलाते हुए कहा कि अपने कर्त्तव्यों का सत्य-निष्ठा से निर्वहन करने पर ही इसकी स्थापना संभव है। कार्यक्रम में विधायक श्री विजयपाल सिंह एवं अन्य जन-प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

लाइफ स्टाइल

थोड़ा-थोड़ा हंसना जरूर चाहिए… 100 रोगों की एक दवा,...

PUBLISHED : Oct 14 , 2:33 PM

हंसना, मुस्कुराना एक ऐसी भावना है जो इंसान के अलावा किसी अन्य प्राणि के नसीब में नहीं आई है। खास बात यह है कि खुशी सौ र...

View all

बॉलीवुड

Prev Next