पाक को एफ-16 लड़ाकू विमान की बिक्री पर अमरीका की मुहर Bookmark and Share

PUBLISHED : 13-Feb-2016



वॉशिंगटन। अमरीका ने पाकिस्तान के साथ आठ एफ-16 लड़ाकू विमान बेचने को मंजूरी दे दिया है। पेंटागन के रक्षा एजेंसी ने कहा कि विमान की बिक्री को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गयी थी। एजेंसी ने कहा कि पाकिस्तान को यह लड़ाकू विमान इस उम्मीद से साथ दिया जा रहा है ताकि वह वर्तमान तथा भविष्य में आतंकवाद के साथ-साथ अपनी रक्षा चुनौतियों से भी मुकाबला कर सके।

भारत ने दिल्ली में मौजूद अमरीकी एंबेसेडर को तलब किया

70 करोड़ डॉलर की इस डील के तहत पाकिस्तान को लॉकहीड मार्टिन ग्रुप के बनाए इन प्लेन के अलावा राडार और बाकी इक्विपमेंट्स भी मिलेंगे। ये प्लेन हर तरह के मौसम में हमला करने की काबिलियत रखते हैं। ओबामा एडमिनिस्ट्रेशन के इस फैसले के बाद भारत ने दिल्ली में मौजूद अमरीकी एंबेसेडर को तलब किया है।

रिपब्लिकर पार्टी के सीनेटर से जताया था एतराज

इससे पहले विदेश मंत्री जॉन केरी को लिखे एक पत्र में रिपब्लिकन पार्टी के एक सीनेटर बाब कोरकर ने पाकिस्तान को एफ-16 लड़ाकू विमान देने पर रोक लगाने की मांग की थी। कोरकर ने कहा था कि पाकिस्तान आतंकवादी समूहों को सुरुक्षित पनाहगाह मुहैराया कराता है और वह एक धोखेबाज सहयोगी है।

इसके बाद में राष्ट्रपति ओबामा प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पाकिस्तान को लड़ाकू विमान दिए जाने की वकालत करते हुए कहा था कि पाकिस्तान को अमरीका की ओर से दी जाने वाली सुरक्षा मदद उसके आतंकवादरोधी और उग्रवादरोधी अभियानों में योगदान देती है। उन्होंने कहा था पाक को यह सहायता आतंकी संगठनों को कमजोर करने के लिये दी जा रही है।

बॉलीवुड

Prev Next