सुषमा के बचाव में बीजेपी, क्वात्रोची-एंडरसन को तो नहीं भगाया: शाह Bookmark and Share

PUBLISHED : 15-Jun-2015



नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज रविवार को आईपीएल घोटाले में आरोपित ललित मोदी की मदद कर विवादों में फंस गई हैं। सुषमा पर ब्रिटेन में ललित मोदी को यात्रा दस्तावेज दिलाने में कथित मदद का आरोप है। मामले में विदेश मंत्री ने ट्वीट कर सफाई दी की उन्होंने मानवीय आधार पर मदद की थी। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात कर उनको घटना से अवगत कराया।

वहीं कांग्रेस समेत विपक्षी दलों ने इस मुद्दे पर विदेश मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। सुषमा स्वराज के बचाव में भाजपा से लेकर संघ तक उतर आया है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को सुषमा स्वराज का बचाव किया। अमित शाह ने कहा, यह क्वात्रोचि को देश के बाहर भगाने का मामला नहीं है। न ही यह एंडरसन को भोपाल त्रासदी के बाद देश के बाहर जाने की अनुमति देने जैसा मामला है।

फेमा उल्लंघन में मोदी की है तलाश

आईपीएल कोष के कथित गबन के सिलसिले में ललित मोदी के खिलाफ भारत में लुक-आउट नोटिस जारी है। प्रवर्तन निदेशालय फेमा उल्लंघन मामले में ललित मोदी की तलाश कर रहा है। ललित ने 2010 से लंदन में रह रहें हैं ताकि वह आईपीएल टूर्नामेंट में कथित सट्टे और धन की हेराफेरी की जांच से बच सकें।

सुषमा की सफाई

सुषमा स्वराज ने बताया, जुलाई 2014 में ललित मोदी ने मुझे से कहा कि उनकी पत्नी कैंसर से पीडित है और उनकी सर्जरी 4 अगस्त को पुर्तगाल में होनी है। इस दौरान मुझे अस्पताल में सहमति कागजात पर दस्तखत के लिए मौजूद रहना होगा। ललित ने बताया, यात्रा दस्तावेज के लिए लंदन में आवेदन किया था। लेकिन यूपीए सरकार के एक सर्कुलर से ब्रिटिश सरकार के हाथ बंधे हैं। विदेश मंत्री ने कहा, मैंने मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए ब्रिटिश उच्चायुक्त से ललित मोदी केआग्रह की जांच ब्रिटिश नियम-कायदों के तहत करने को कहा। मैंने कहा, अगर सरकार ललित को यात्रा दस्तावेज देना पसंद करती है तो इससे हमारे द्विपक्षीय रिश्ते नहीं बिगड़ेंगे।

बॉलीवुड

Prev Next