प्राइवेट स्कूलों को सेंटर बनाने से तौबाBookmark and Share

PUBLISHED : 15-Jan-2013

भोपाल:हर साल माध्यमिक शिक्षा मण्डल बोर्ड परीक्षाओं का सेंटर बनाने के लिए सरकारी स्कूलों को ही प्रार्थमिकता देता आया है। इस साल भी नकल को रोकने के लिए मण्डल अपने उसी फैसले पर अडिग है । मण्डल परीक्षा सेंटर बनाने के लिए पहले तो अपने सरकारी स्कूलों को ही प्रार्थमिकता देगा..उसके बाद उन स्कूलों को चुना जाएगा जिन्हें सरकारी सहायता मिली हुई है।आखिर में कमी पड़ने पर वो स्कूल चुने जाएंगें जहां पिछले 5 सालों के रिकार्ड के मुताबिक शांतीपूर्ण तरीके से परीक्षा होती आई हैं । ऐसे स्कूलों के नाम मण्डल ने निकाल लिए हैं पर मण्डल के सचिव का कहना है कि अगर सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों से काम हो जाएगा तो वे इस तीसरी केटेगरी में नही जाएंगें।वहीं संवेदनशील परीक्षा केंद्रों में कड़ी निगरानी रखने के लिए मण्डल ने कलेक्टर और एसपी को निर्देश दे दिए हैं साथ ही रिटायर्ड शिक्षा विद्, एसडीएम और तहसीलदार जैसे लोग ओबज़रवर बनकर ऐसे केंद्रों पर कड़ी नजर रखेंगें।


लाइफ स्टाइल

Survey : घरों के परदों और सोफे से भी होती है सांस ...

PUBLISHED : Aug 17 , 3:09 PM

आमतौर पर माना जाता है कि सांस की बीमारी सिगरेट, बीड़ी पीने से होती है। पर, पिछले डेढ़ साल में हुए शोध के मुताबिक बिना धूम्...

View all

बॉलीवुड

Prev Next