इलाहाबाद स्टेटशन पर बड़ा हादसा..20 श्रद्धालू समाएं मौत के आगोश मेंBookmark and Share

PUBLISHED : 10-Feb-2013

इलाहाबाद-मौनी अमावस्या पर कुंभ स्नान करके अपने घरों को लौट रहे श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रेलवे स्टेशन जमा हो गई और उसे नियंत्रित करने के लिए रेलवे पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। लाठीचार्ज के बाद भगदड़ मच गई और प्लेटफार्म नंबर 6 के फुट ओवरब्रिज की रेलिंग टूट गई। इस हादसे में 20 लोगों की मौत हो गई और 2 दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। जिस प्रकार से यह घटना हुई है, उसमें मरने वालों का आंकड़ा और बढ़ सकता है।

मृतकों में अधिकांश महिलाएं और बच्चे हैं। पता चला है कि अभी भी गंभीर रूप से 20 लोग घायल हैं। स्टेशन पर किसी तरह की मेडिकल सुविधा नहीं थी। रेलवे स्टेशन पर ब्रिज के नीचे कई लोग बेहोश पड़े थे, जिन्हें समीप के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया जा रहा है।

इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर घायलों को स्ट्रेचर पर नहीं थी बल्कि चादरों के जरिये अस्पताल ले जाया जा रहा था। सनद रहे कि मौनी अमावस्या पर 3 करोड़ से ज्यादा लोग कुंभ में पहुंचे थे। घायलों का कहना है कि हम 2 घंटे से रेलवे स्टेशन पर पड़े रहे लेकिन कोई सुध लेने वाला नहीं था। रेलवे स्टेशन पर इस बदइंतजामी की वजह से लोग काफी गुस्से से भरे हुए हैं।
रेलवे स्टेशन पर हालात यह थी कि यहां पैर रखने की जगह तक नहीं बची। भीड़ का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि भारी भीड़ होने की वहज से मेडिकल टीम घायलों तक नहीं पहुंच पा रही थी।
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर मची भगदड़ में लोगों के मारे जाने पर दु:ख व्यक्त किया, रेल मंत्रालय को सभी संभव सहायता देने का निर्देश दिया। उन्होंने अपने संदेश में कहा 'मैं शोक संतप्त परिवारों के साथ गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।'
मौनी अमावस्या पर रविवार को शाही स्थान था और यही कारण है कि यहां पर इतनी तादाद में श्रद्धालु पहुंचे थे। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

कुंभ मेले के सलाहकार राकेश सिंह ने स्वीकार किया है कि जिस तरह से यह हादसा हुआ है, उससे लगता है कि 15 से 25 लोगों की मौत हुई है। कुंभ में इससे पहले 1954 में एक हादसा हुआ था, जिसमें 800 लोग मारे गए थे।

लाइफ स्टाइल

कोरोना भगाने के लिए सोशल मीडिया पर वायरल टोटके, कह...

PUBLISHED : Mar 29 , 2:33 PM

महामारी से बचने के लिए पहले के लोग कोई न कोई टोटका किया करते थे। इसका कारण था मेडिकल साइंस का असहाय होना। कोरोना वायरस क...

View all

बॉलीवुड

Prev Next