हजार करोड़ का चीफ इंजीनियर? घर से मिले 100 करोड़ के जेवर, कार से 10 करोड़ कैशBookmark and Share

PUBLISHED : 29-Nov-2014

 
नोएडा. नोएडा प्राधिकरण समेत तीन अथॉरिटी के चीफ इंजीनियर यादव सिंह के घर इनकम टैक्स के छापे में उनकी गाड़ी से 10 करोड़ कैश मिला है। इसके अलावा 100 करोड़ रुपए कीमत की डायमंड ज्वेलरी जब्त किए गए हैं। इनका वजन करीब दो किलो है। प्रदेश के कई इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स में यादव सिंह की हिस्सेदारी बताई जाती है। उनके कई मॉल भी निर्माणाधीन हैं। बताया जा रहा है कि चीफ इंजीनियर और उनके परिवार के सदस्यों के पास कुल करीब एक हजार करोड़ रुपए कीमत की संपत्ति हो सकती है।  हालांकि, इस बात की आधिकारिक तौर पर पुष्टि अभी बाकी है। छापेमारी की खबर सामने आने के बाद यादव सिंह को नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस वे अथॉरिटी के चीफ इंजीनियर पद से हटा दिया गया है। 
 
इनकम टैक्स विभाग के वरिष्ठ अफसर कृष्णा सैनी के मुताबिक, 'पूरा मामला यादव सिंह की पत्नी कुसुमलता और उनके पार्टनरों-राजेंद्र मनोचा, नम्रता मनोचा और अनिल पेशावरी द्वारा 40 कंपनियां बनाकर हेराफेरी करने का है। बोगस शेयर होल्डिंग के बूते सिर्फ नाम के लिए करीब 40 कंपनियां बनाकर नोएडा विकास प्राधिकरण से प्लॉट आवंटित करवाए गए। इसके बाद प्लॉट कंपनी समेत बेच दिए। इससे हुई आय को दस्तावेजों में न दिखा कर बड़े पैमाने पर आयकर चोरी की गई। इसकी विस्तृत जानकारी शुक्रवार को दी जाएगी।'
 
बीवी के फर्म के जरिए बेचते थे प्लॉट 
यादव सिंह नोएडा अथॉरिटी में तैनाती का फायदा उठाते हुए अपनी पत्नी के नाम रजिस्टर्ड फर्म को सरकारी दर पर बड़े-बड़े व्यावसायिक प्लॉट अलॉट करा देते थे। इसके बाद इन्हीं प्लॉट को वह बिल्डरों को काफी ऊंचे दामों में बेच देते थे। अधिकारियों ने यादव सिंह की पत्नी के नाम से चल रही मैकॉन इंफ्राटेक और मीनू क्रिएशंस नाम की फर्मों में छापेमारी की। इस दौरान जमीनों की खरीद-फरोख्त से जुड़े कई महत्वपूर्ण दस्तावेज जब्त किए। 
 
20 टीमों ने 30 ठिकानों पर छापा
यादव सिंह के घर पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की छापेमारी शुक्रवार को भी जारी रही। आईटी विभाग की टीम को नोएडा के सेक्टर-51 में ए-10  स्थित उनके घर से 90 लाख रुपए की ऑडी कार भी मिली है। गौरतलब है कि गुरुवार को इनकम टैक्स की 20 टीमों ने यादव सिंह और उनकी पत्नी के 30 ठिकानों पर छापा मारा था। ये ठिकानें गाजियाबाद, दिल्ली और नोएडा में हैं। टीम ने कई अहम दस्तावेज जब्त किए। इसके अलावा 13 लॉकर भी सीज किए। दस्तावेजों के आधार पर यादव द्वारा करोड़ों रुपए के टैक्स चोरी का अनुमान लगाया गया है। 
 
100 मीटर ग्रीन बेल्ट पर कब्जा  
यादव सिंह के नोएडा स्थित सेक्टर 51 की कोठी पर छापा मारने पहुंची आयकर विभाग की टीम कोठी के सामने खास तौर पर तैयार किए गए ग्रीन बेल्ट को देखकर दंग रह गई। तकरीबन सौ मीटर के हिस्से में बनी ग्रीन बेल्ट में ईको फ्रेंडली शौचालय, फुट लाइट, चार्जिंग प्वॉइंट, कबूतरों का पिंजड़ा और रंग-बिरंगे झूले और बेंच देख सभी दंग रह गए। ग्रीन बेल्ट में ही यादव सिंह के घर के लिए जनरेटर और एक ट्रांसफामर रखा हुआ था। अथॉरिटी के चीफ इंजीनियर होने के नाते यादव सिंह की एक जिम्मेदारी ग्रीन बेल्ट पर अवैध कब्जे को हटाना भी था, लेकिन वे खुद ऐसी पट्टी पर कब्जा किए हुए थे।

लाइफ स्टाइल

Survey : घरों के परदों और सोफे से भी होती है सांस ...

PUBLISHED : Aug 17 , 3:09 PM

आमतौर पर माना जाता है कि सांस की बीमारी सिगरेट, बीड़ी पीने से होती है। पर, पिछले डेढ़ साल में हुए शोध के मुताबिक बिना धूम्...

View all

बॉलीवुड

Prev Next