वैज्ञानिकों ने दुनिया का सबसे पतला सोना बनाया, कई उपकरणों में हो सकेगा प्रयोगBookmark and Share

PUBLISHED : 12-Aug-2019


वैज्ञानिकों ने दुनिया का सबसे बारीक सोना तैयार किया है। इसकी खासियत है कि यह इंसानी नाखून से भी 10 लाक गुना पतला है। हालांकि, इस सोने का प्रयोग कई मेडिकल उकरणों और इलेक्ट्रिक उपकरणों में भी किया जा सकेगा।
लंदन
वैज्ञानिकों ने दुनिया का सबसे बारीक सोना (गोल्ड) तैयार किया है जो केवल 2 अणुओं के बराबर पतला है। इसे ऐसे समझा जा सकता है कि वह हमारे नाखून से 10 लाख गुना पतला है। ब्रिटेन में यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स के अनुसंधानकर्ताओं ने सोने की मोटाई 0.47 नैनोमीटर मापी है। इस पदार्थ को 2डी बताया गया है क्योंकि इसमें एक के ऊपर एक अणुओं की 2 परत हैं।
इस पदार्थ का चिकित्सकीय उपकरणों और इलेक्ट्रॉनिक उद्योग में व्यापक अनुप्रयोग हो सकता है। कुछ औद्योगिक प्रक्रियाओं में रासायनिक प्रक्रियाओं के उत्प्रेरण में भी इसका इस्तेमाल हो सकता है। प्रयोगशाला परीक्षणों में पता चला है कि यह सोना उत्प्रेरक के रूप में वर्तमान में इस्तेमाल किए जाने वाले स्वर्ण नैनोकणों की तुलना में अधिक प्रभावी है। यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स के सुन्जिये यी ने कहा कि यह काम ऐतिहासिक उपलब्धि है।
वैज्ञानिकों का कहना है कि इस सबसे पतले सोने का प्रयोग बहुत से मेडिकल और इेलक्ट्रॉनिक उपकरण के लिए किया जा सकेगा। एक रिसर्चर ने कहा, 'इस सोने का प्रयोग बहुत से मेडिकल डिवाइस और इलेक्ट्रॉनिक इंडस्ट्री के लिए किया जा सकेगा। साथ ही बहुत तेजी से रासायनिक प्रतिक्रियाओं के लिए भी इसका प्रयोग औद्योगिक प्रक्रिया के तौर पर किया जा सकेगा।'

साइंस

दुनिया में बढ़ती गर्मी से उजड़ सकता है मत्स्य जीवन...

PUBLISHED : Dec 14 , 10:26 AM

दुनिया में तेजी से हो रहे जलवायु परिवर्तन के कारण मत्स्य उद्योग और प्रवाल भित्ति पर्यटन बर्बाद हो सकता है जिससे वर्ष 205...

View all

बॉलीवुड

Prev Next