राज्यसभा में गरजे PM मोदी, कहा- जो लोग कभी 'साइलेंट' थे, वे आज 'वायलेंट' हैंBookmark and Share

PUBLISHED : 06-Feb-2020



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा के बाद राज्यसभा को संबोधित किया। राज्यसभा में बोलते हुए पीएम मोदी ने सीएए समेत बाकी मुद्दों को लेकर विपक्ष पर जमकर हमला बोला। पीएम मोदी ने कहा है कि जनगणना और एनपीआर, सामान्य प्रशासनिक गतिविधियां हैं जो देश में पहले भी होती आयी हैं लेकिन राजनीतिक मजबूरियों के कारण आज इसका विरोध किया जा रहा है। जनगणना में हर बार सवालों में फेरबदल होता है, यह प्रशासिनक प्रक्रिया है और इस बारे में अफवाह न फैलाई जाए। नीचे पढ़िए राज्यसभा में पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें-

1- पीएम मोदी ने कहा कि पहली बार जम्मू-कश्मीर में एंटी करप्शन ब्यूरो की स्थापना हुई, पहली बार वहां अलगाववादियों के सत्कार की परंपरा समाप्त हो गई। पहली बार जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ पुलिस और सेना मिलकर निर्णायक कार्रवाई कर रहे हैं।

2- अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू कश्मीर के गरीब सामान्य वर्ग को आरक्षण का लाभ मिला, पहली बार पहाड़ी भाषी लोगों को आरक्षण का लाभ मिला, पहली बार महिलाओं का ये अधिकार मिला कि वो अगर राज्य के बार विवाह करती हैं तो उनकी संपत्ति का अधिकार छीना नहीं जाएगा।

3- उस समय के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी ने लोकसभा में एक बात कही थी -democracy in India is being harmed due to protests on Telangana issue. अटल जी की सरकार ने उत्तराखंड, झारखंड और छत्तीसगढ़ बनाएं थे, पूरे सम्मान, शांति और सद्भाव के साथ।

4- देश के विभाजन के बाद जो लोग पाकिस्तान में रह गये थे उनमें से अधिकतर हमारे दलित भाई बंधु थे। अल्पसंख्यकों की दुहाई देने वाले लोग उनकी पीड़ा भी महसूस करें जो पड़ोस में अल्पसंख्यक बन गये , जो लोग कभी 'साइलेंट' थे वे आज 'वायलेंट' हैं।

5- हिंदुस्तान का मुसलमान जिये और पाकिस्तान का हिंदू जिये। मैं इस बात को ठुकराता हूं कि पाकिस्तान के हिंदू पाकिस्तान के नागरिक हैं इसलिये हमें उनकी परवाह नहीं करना चाहिये यह बात राममनोहर लोहिया जी ने कही थी।

6- सीएए के विरोध में जो हिंसा हुयी उसे आंदोलन का अधिकार मान लिया गया, सीएए के बारे में जो भी प्रचारित किया जा रहा है उसके बारे में सभी साथियों को खुद से पूछना चाहिये कि क्या उन्हें देश को गुमराह करना चाहिये। यह रास्ता सही नहीं हैं, हम सब मिल कर इस पर विचार करें।

7- महिला सशक्तिकरण का राष्ट्रपति के अभिभाषण में संक्षेप में जिक्र है। बहरहाल, सरकार ने सैनिक स्कूलों में बच्चियों की भर्ती शुरु की है। आकांक्षी जिले भी प्रतिस्पर्धी बन कर सहकारी संघवाद का श्रेष्ठ उदाहरण बन रहे हैं। इन जिलों से आकांक्षी कस्बे चुनने को कहा गया है।

8- जम्मू-कश्मीर में पीएम पैकेज समेत अन्य कई योजनाओं को तेजी से आगे बढ़ाया जा रहा है। 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 का हटना, आतंक और अलगाव को बढ़ावा देने वालों के लिए ब्लैक डे सिद्ध हो चुका है।

9- नार्थ ईस्ट अभूतपूर्व शांति के साथ आज भारत की विकास यात्रा का एक अग्रिम भागीदार बना है। 40-50 वर्षों से नॉर्थ ईस्ट में हिंसक आंदोलन चलते थे, लेकिन आज वो आंदोलन समाप्त हुए हैं और शांति की राह पर नॉर्थ ईस्ट आगे बढ़ रहा है।

10- यहां अर्थव्यवस्था के विषय में चर्चा हुई। देश में निराश होने का कोई कारण नहीं है। अर्थव्यवस्था के जो basic मानदंड है, उनमें आज भी देश की अर्थव्यवस्था सशक्त है, मजबूत है और आगे जाने की ताकत रखती है। नार्थ ईस्ट में कांग्रेस और उनके मित्र दलों की सरकारें थीं। आप चाहते तो उनकी समस्य़ा पर सुखद समाचार आप ला सकते थे। इतने वर्षों के बाद उनकी समस्याओं का स्थाई समाधान करने में हम सफल हुए हैं।

साभार

लाइफ स्टाइल

हाई ब्लड प्रेशर से रहते हैं परेशान तो डाइट में शाम...

PUBLISHED : Aug 01 , 10:38 AM

क्या आप उच्च रक्तचाप की समस्या से जूझ रहे हैं? अगर हां तो खाने में नमक की मात्रा घटाने, नियमित रूप से योग-व्यायाम करने औ...

View all

बॉलीवुड

Prev Next