ईरानी के 1996 के BA के दस्तावेज अब तक नहीं मिलेBookmark and Share

PUBLISHED : 04-May-2016



नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय ने आज यहां एक अदालत को बताया कि 1996 में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी के बीए कोर्स करने से संबंधित दस्तावेज अब तक नहीं मिले हैं। ईरानी ने 2004 के लोकसभा चुनाव के दौरान दायर हलफनामे में इस कोर्स का उल्लेख किया था।

अदालत ने विश्वविद्यालय के पत्राचार विभाग से यह दस्तावेज तलब किए थे क्योंकि ऐसा आरोप था कि ईरानी ने अप्रैल, 2004 के चुनाव में अपने हलफनामे में दावा किया था कि उन्होंने 1996 में बीए किया था।

विश्वविद्यालय के पत्राचार विद्यालय के सहायक पंजीकार ओ पी तंवर ने मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट हरविंदर सिंह से कहा, ‘उनके बीए से संबंधित 1996 के दस्तावेज अभी मिलने बाकी हैं।’ वैसे तंवर ने 1993-94 के बी कॉम (ऑनर्स) के लिए प्रवेश प्रपत्र, इस कोर्स के परिणाम और 2013.14 में बीए (ऑनर्स) राजनीति विज्ञान प्रथम वर्ष में उनके अनुक्रमांक सह प्रपत्र पत्र समेत उनकी शिक्षा से जुड़े कुछ दस्तावेज पेश किए हैं।

उन्होंने कहा कि बी कॉम (ऑनर्स) के प्रवेश प्रपत्र के साथ सौंपे गए ईरानी की कक्षा 12 वीं के दस्तावेज भी नहीं मिले हैं। लेकिन उन्होंने कहा कि प्रवेश से पहले सत्यापन अवश्य ही किया गया होगा।

अदालत ने उत्तरी दिल्ली के एसडीएम को चांदनी चौक निर्वाचन क्षेत्र से वर्ष 2004 का चुनाव लड़ने के लिए ईरानी द्वारा हलफनामे के साथ दिए गए दस्तावेज भी देने को कहा। मामले की अगली सुनवाई छह जून को होगी।

अदालत ने पहले चुनाव आयोग और दिल्ली विश्वविद्यालय को ईरानी के खिलाफ दर्ज इस शिकायत पर शैक्षणिक योग्तया से जुड़े प्रमाणपत्र पेश करने का निर्देश दिया कि उन्होंने चुनाव आयोग के समक्ष हलफनामों में गलत सूचनाएं दीं।

लाइफ स्टाइल

प्रदेश की 99 प्रतिशत ग्राम पंचायतों में प्रारंभ ह...

PUBLISHED : May 25 , 8:30 PM

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रत्येक जरूरतमंद को रोजगार मुहैया कराने के संकल्प की पूर्ति के लिए प्रदेश की...

View all

बॉलीवुड

Prev Next