पाक: यूनिवर्सिटी पर बड़ा आतंकी हमला, 23 की मौत, 6 आतंकी ढेर Bookmark and Share

PUBLISHED : 20-Jan-2016



इस्लामाबाद। पाकिस्तान में एक बार फिर आतंकी हमला हुआ है। इस बार चरसड्डा की बाचा खान यूनिवर्सिटी को हथियारबंद हमलावरों ने निशाना बनाया। आतंकवादियों के एक गुट ने आज सबेरे पश्चिमोत्तर पाकिस्तान की एक यूनिवर्सिटी में घुसकर छात्रों और अध्यापकों पर अंधाधुंध गोलीबारी कर दी और इसके साथ ही उन्होंने कई धमाके भी किए। इस हमले में 23 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है।

सेना ने सभी आतंकियों को मारने का दावा किया

वहीं कहा जा रहा है कि हमलावरों ने 50 से 60 छात्रों के सिर पर गोली मारी है। उधर, सेना ने सभी 6 आतंकियों को मार गिराने का दावा किया है। बताया जा रहा है कि हमलावरों ने रसायन के प्रोफेसर डॉक्टर हामिद को भी मौत के घाट उतार दिया। हमले की जिम्मेदारी तहरीक-ए-तालिबान ने ली है। वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि आतंक का कोई मजहब नहीं होता और लोगों की कुर्बानी का जाया नहीं जाने दिया जाएगा। उधर, भारत ने भी इस घटना की कड़ी निंदा की है।

अब तक 25 के घायल होने की पुष्टि

घटना सुबह नौ बजे की बताई जा रही है। इसके बाद आतंकियों ने 9.30 बजे गोलियां चलानी शुरु कर दी। इसके बाद पुलिस यूनिवर्सिटी में घुसी और उसने दो आतंकवादियों को मार गिराया। शेष आतंकवादी यूनिवर्सिटी परिसर की तीसरी और चौथी मंजिल पर छुपे थे। इसके बाद मौके पर सेना को भी बुला लिया गया। पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार आतंकवादियों की गोली से रसायन शास्त्र के एक प्रोफेसर मारे गए, वहीं 25 अन्य घायल हो गए।

कोहरे का लाभ उठाकर घुसे थे आतंकी

आतंकवादियों ने खैबर पख्तूनवा प्रांत के चरसादा स्थ्ति बादशाह खां यूनिवर्सिटी में कोहरे का लाभ उठाकर प्रवेश किया और उन्होंने छात्रों तथा अध्यापकों को अपना निशाना बनाना शुरु किया। फिलहाल सेना ने यूनिवर्सिटी परिसर को चारों तरफ से घेर लिया है। यूनिवर्सिटी के चप्पे-चप्पे की तलाशी ली जा रही है। हालांकि सेना ने अभी भी ऑपरेशन खत्म होने का दावा नहीं किया है।

16 दिसंबर 2014 को भी हुआ था बड़ा आतंकी हमला

आपको बता दें कि यूनिवर्सिटी में आज मुशायरा होना था। इसकी वजह से काफी संख्या में छात्र और उनके परिजन वहां पहुंचे थे। यह हमला भारतीय समयानुसार सुबह 9.30 बजे हुआ। गौरतलब है कि 16 दिसंबर 2014 को पेशावर के आर्मी पब्लिक स्कूल पर हुए आतंकी हमले में 141 लोगों की मौत हो गई थी। इनमें 132 बच्चे थे। तहरीक-ए-तालिबान के 7 फिदायीन आतंकियों ने यह हमला किया था।

लाइफ स्टाइल

कोरोना भगाने के लिए सोशल मीडिया पर वायरल टोटके, कह...

PUBLISHED : Mar 29 , 2:33 PM

महामारी से बचने के लिए पहले के लोग कोई न कोई टोटका किया करते थे। इसका कारण था मेडिकल साइंस का असहाय होना। कोरोना वायरस क...

View all

बॉलीवुड

Prev Next